• Sat. Jun 22nd, 2024

एक्सक्लूसिव

  • Home
  • आपकी फेंकी गंदगी, छीन लेगी मछलियों की जिन्दगी, गंगा में घुलता प्लास्टिक मछलियों के लिए खतरा।

आपकी फेंकी गंदगी, छीन लेगी मछलियों की जिन्दगी, गंगा में घुलता प्लास्टिक मछलियों के लिए खतरा।

सन्दीप थपलियाल नई दिल्ली। पवित्र गंगा नदी में पाई जाने वाली मछलियों की सेहत के लिए पॉलिमर चिंता का विषय बन गए हैं। देवप्रयाग से हरिद्वार के बीच मछलियों के…

जिंगो-विंगो, चर्चिल भाई चिल मार #chill_mar_charchil

✍🏿सुधीर राघव : स्वर्ग में चिल मार रहे चर्चिल एक दम हड़बड़ा के उठ बैठे जब उन्होंने सपना देखा कि धरती पर और खासकर उनके प्यारे ब्रिटेन पर अब एक…

अल्मोड़ा की इस मिठाई को देख किसी ‘बाल’ सा मचलते हैं पीएम मोदी

✍🏿अरुणा आर थपलियाल : अल्मोड़ा की एक खास मिठाई को दिल देखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मन किसी बच्चे(बाल या बालक) की भांति मचल उठता है। बाल मिठाई उनकी पहली…

आखिर कब तक संभालेंगे तुहारे हैलीकॉप्टर बाबा केदार! कुछ तो सुधरो हे उत्तराखंड सरकार!!

✍🏿अरुणा आर थपलियाल हैरत की बात है की केदारनाथ के लिए हैली सेवा शुरू हुए दो दशक बीतने को हैं, लेकिन व्यवस्थित उड़ान के लिए भी एयर ट्रैफिक कंट्रोल टावर…

उत्तराखंड उद्यान विभाग में बगावत, 22 सीनियर अफसरों ने सचिव को लिखी चिट्ठी – निदेशक बवेजा के साथ नहीं कर सकते काम

उत्तराखंड के राजकीय उद्यान विभाग के सीनियर अधिकारियों ने अपने सर्वोच्च अधिकारी के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंक लिया है। अपने निदेशक के खिलाफ माेर्चा खोलने वालों में कोई मामूली…

केदारनाथ आपदा की आई याद, धाम के पीछे चौराबाड़ी ग्लेशियर के कैचमेंट में एबलांच

केदारनाथ से पांच किलोमीटर ऊपर चौराबाड़ी ताल के पास ग्लेशियर के कैचमेंट में एवलांच से एक बार फिर केदारनाथ आपदा की याद दिला दी है। हालांकि यहां ग्लेशियर छोटा होने…

हिंदी पखवाड़ा: ध्वनि को चिन्ह रूप में निखारती देवनागरी

✍🏿पार्थसारथि थपलियाल (14 सितंबर 1949 को भारतीय सांविधान में हिंदी को राजभाषा के रूप में स्वीकार किया गया। संविधान में लिखा गया कि भारत की राजभाषा हिंदी होगी, जिसकी लिपि…

भद्रा की चिंता छोड़ें, बेझिझक मनाएं रक्षाबंधन 11अगस्त को, कारण पढ़िए शास्त्रों के हवाले से

✍🏿पंडित विजय कुमार जोशी कुछ विद्वान 11 तारीख़ को पड़ने वाली भद्रा को अशुभ मान रहे हैं और उनका मानना है उस दिन पड़ने वाली पाताल की भद्रा का कोई…

… मैं अपनी जटा से देश की रक्षा में लगे सैनिकों के जूते साफ करना चाहता हूं..

✍🏿कुमार अतुल की कलम से मां कात्यायनी के आराधक बाबा नागपाल जी की अद्भुत कहानी नवरात्रों की धूमधाम है। पूरे देश में चैत्र नवरात्रों पर व्रत, पूजा-पाठ विभिन्न आयोजन होते…

काम से कामनाओं तक बसंत

✍🏿पार्थसारथि थपलियाल भारत पर्वों और उत्सवों का देश है। यहां सात वार और नौ त्यौहार की कहावत इसीलिए प्रसिद्ध है। यहां रोटी तोड़कर जीवन यापन को जीवन नही माना गया…

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385