• Thu. Apr 25th, 2024

चौबीस तक दें कावड़ यात्रा का प्लान


पौड़ी । आगामी नीलकंठ कांवड़ मेला की तैयारियों के संबंध में लक्ष्मणझूला स्थित परमार्थ निकेतन में जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान की अध्यक्षता में संबंधित विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक आयोजित की गई। जिलाधिकारी ने विभिन्न विभागीय अधिकारियों को व्यापक साफ-सफाई बरतने, स्ट्रीट लाइट, सीसीटीवी कैमरा, पेयजल, शौचालय,, यातायात प्रबंधन, क्राउड मैनेजमेंट, ओवर रेटिंग पर रोक, पार्किंग तथा सुरक्षा प्रबंधन इत्यादि के संबंध में पूर्व में दिए गए निर्देशों के अनुपालन की आख्या प्राप्त करते हुए सभी संबंधित विभागों को शीघ्रता से अपने -अपने कार्यों के संपादन का संपूर्ण प्लान बनाते हुए आगामी 24 जून तक उसका विवरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला पंचायत, नगर पालिका परिषद स्वर्गाश्रम-जोक, उरेडा तथा मंदिर प्रबंधन समिति को विभिन्न स्थानों पर स्ट्रीट लाइट लगाने तथा महत्वपूर्ण स्थलों पर मोबाइल टॉयलेट लगाते हुए वहां पर व्यापक साफ-सफाई बरतने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन 50 पॉइंट पर मोबाइल टॉयलेट स्थापित किए जाने हैं उनको तत्काल राजस्व विभाग की सहायता से चिन्हित किया जाए तथा इस संबंध में अग्रिम कार्रवाई की जाए। जिलाधिकारी ने पेयजल निगम को निर्देशित किया कि महत्वपूर्ण पॉइंट पर पेयजल की वैकल्पिक व्यवस्था बनाएं तथा विभिन्न स्थानों पर पहले से ही पेयजल की बनाई गई पूर्व व्यवस्था को चेक करते हुए सुचारू रूप से चालू करें। पुलिस विभाग को सीसीटीवी कैमरा लगाने तथा परिवहन विभाग के साथ मिलकर यातायात प्रबंधन, यात्रा में मानक को फुलफिल करने वाले वाहनों को ही नियमानुसार संचालित करवाने के साथ-साथ स्थाई व अस्थाई पार्किंग के संबंध में कार्य योजना बनाते हुए अग्रिम कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पुलिस व परिवहन विभाग यह भी सुनिश्चित करें कि नशे की हालत में तथा मानक के विरुद्ध किसी भी तरह से कांवड़ मेले में वाहनों का संचालन ना होने पाए, जिससे यातायात व्यवस्था में किसी भी तरह की परेशानी उत्पन्न ना हो सके। जिलाधिकारी ने फूड सेफ्टी विभाग को निर्देष दिए कि कांवड मेले के दौरान खाद्य पदार्थों की गुणवत्ता सुनिश्चित की जाए तथा किसी भी तरह से एक्सपायर डेट की सामान की बिक्री ना होने पाए इस बात को सुनिश्चित करें तथा पर्याप्त सैनिटेशन सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने वन विभाग, उप जिला अधिकारी, जिला पंचायत, नगर पालिका परिषद, उरेड़ा, लोक निर्माण विभाग व पेयजल निगम आदि को मिलाकर मेला आयोजन समिति गठित करने के निर्देश देते हुए कहा कि समिति इस वर्ष तथा आगामी वर्षों के लिए भी कांवड़ मेले का आयोजन संपादन करने का कार्य करेगी। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने किसी भी तरह की ओवर रेटिंग पर लगाम लगाने के लिए होटल, ढाबा व दुकानों पर सामान की रेट लिस्ट अनिवार्य रूप से चस्पा करने के निर्देश दिए।
बैठक में वन विभाग की अधिकारी कहकशा नसी, एआरटीओ कोटद्वार निखिल शर्मा, खाद्य सुरक्षा अधिकारी संदीप मिश्रा, अधिशासी अभियंता ऊर्जा निगम नवनीत अग्रवाल, ईओ नगर पालिका मंजू चौहान, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत डॉ सुनील कुमार, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग डीपी सिंह व खंड विकास अधिकारी दृष्टि आनंद सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385