• Sat. Jun 22nd, 2024

दिन भर रुलाता रहा नेशनल हाईवे


देवप्रयाग। ऋषिकेश-बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग भारी बारिश से सोमवार शाम से मंगलवार पूरे दिन बाधित होता रहा। पीडब्ल्यूडी राष्ट्रीय राजमार्ग ने हाइवे पर करीब छह स्थानों पर जे सी बी से भारी चट्टानों के साथ आ रहे मलबे को लगातार साफ कर बदरी, केदार ,हेमकुंड यात्रा को सुचारु किया गया।
राजमार्ग तोता घाटी, कौड़ियाला,शिवमूर्ति,धौलधार, मुल्यागांव सहित व्यासी में लगातार बाधित होता रहा। देवप्रयाग पेट्रोल पंप के निकट बाइक के पत्थर की चपेट में आने से हेड कांस्टेबल धीरज जोशी के सिर पर चोट लग गयी । उन्हें श्रीनगर ले जाया गया जहाँ से ऋषिकेश रेफर कर दिया गया। राजमार्ग पर वाहनो की लम्बी कतार लग गयी। जिनमें अधिकांश बाइक सवार कावडधारी व हेमकुंड जाने वाले सिक्ख यात्री शामिल थे। व्यासी के निकट बन्द होने से सोमवार शाम देवप्रयाग से निकले लोग लगभग साढे सात घण्टे बाद रात एक बजे तक ऋषिकेश पहुँच पाये। व्यासी के निकट दोबारा मलबा आने से ढाई बजे किसी तरह यातायात सुचारु हो पाया। मंगल सुबह से शाम तक व्यासी से देवप्रयाग तक लगातार भारी चट्टानों के साथ मलबा आने से वाहनो की आवाजाही जोखिम भरी बनी रही।
एसएचओ देवप्रयाग देवराज शर्मा की अगुवाई में पुलिस व आपदा प्रबन्धन टीम राजमार्ग पर यातायात को सुचारु करने के लिए लगातार बनी रही। वहीं भारी बारिश को देखते पुलिस ने देवप्रयाग व मुनि की रेती में सोमवार शाम को यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर उन्हे रोका भी गया। देवप्रयागवासी मौलिक जोशी, रवि पटेल आदि ने बताया कि व्यासी के आगे निर्माणाधीन रेलवे सुरंग के समीप भारी मलबे आने से करीब साढे छह घण्टे वह यही फसे रहे। साढे 11 बजे रात मलबा साफ होने के बाद वह एक बजे ऋषिकेश पहुँचे।सोमवार रात व्यासी में भारी भीड़ जमा होने से यात्रियों को खाने पीने आदि की काफी दिक्कते भी झेलनी पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385