• Sat. May 18th, 2024

कालागढ़ थाने में हंगामा, वन वाचर की मौत के बाद परिजनों का शव के साथ प्रदर्शन


देहरादून: पौड़ी जिले के कालागढ में पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गये एक वन वाचर की उपचार के दौरान मौत हो गयी। जिसके बाद युवक के परिजनों ने पुलिस पर युवक का उत्पीडन करने का आरोप लगाते हुए कालागढ कोतवाली में जमकर हंगामा काटा। मृतक युवक के परिजनों ने ग्रामीणों के साथ कालागढ़ कोतवाली में जमकर प्रदर्शन किया। आरोप है कि पुलिस ने युवक की पूछताछ के नाम पर जमकर पिटाई कर दी। जिसके बाद उपचार के दौरान युवक की मौत हो गयी। पुलिस ने आरोपों से इंकार करते किया है। घटना की नजाकत को देखते हुए एसएसपी पौडी मौके के लिए रवाना हो गयी है। उधर इस मामले में पौडी पुलिस का कोई भी अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। जानकारी के अनुसार कार्बेट टाइगर रिजर्व की झिरना रेंज की एक चौकी से कुछ दिन पहले एक रायफल गायब हो गयी थी। वन विभाग ने इस मामले में फायर वाचर सुनील कुमार उर्फ सोनू के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। आरोप है कि पुलिस वन वाचक को पूछताछ के लिए कोतवाली लाई थी। पुलिस ने पूछताछ के नाम पर सोनू को जमकर पडताडित किया। जिससे उसकी मौत हुई है। वहीं, आक्रोशित ग्रामीण मामले में न्याय की गुहार लगाते हुए कोतवाली पहुंच गये। यहां ग्रामीणों ने युवक के शव के साथ जमकर प्रदर्शन किया। दूसरी ओर हिरासत में लिए एक और वन वाचर पुष्पेंद्र सिंह की भी हालत बिगड़ गई है। कालागढ़ स्वास्थ्य केंद्र से बेहोशी की हालत में पुष्पेंद्र को बिजनौर के लिए रेफर किया गया है। उसे भी बीती रात सोनू के साथ ही पूछताछ कोतवाली लाया गया था।


उधर, इस मामले में पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि संचिता वर्मा वन क्षेत्राधिकारी की ओर से 18 जुलाई को रायफल चोरी का मामला दर्ज किया था। जिसमे पुलिस द्वारा युवक सुनील कुमार उर्फ सोनू 22 जुलाई को पूछताछ की गयी थी। पूछताछ के बाद उसी दिन युवक को छोड दिया गया था। युवक का रात को ही अपने घर पर स्वाथ्य खराब हुआ। उपचार के दौरान युवक की मौत हुई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385