• Sat. Jun 22nd, 2024

हाथी डगर इलाके में टाइगर का सीरियल अटैक: महिला की मौत, तीन बाइक सवार घायल


रामनगर। जंगल के निकट अपने खेत में बकरी चुगा रही एक महिला पर बाघ ने हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। बाघ के इस हमले में मौके से गुजर रहे दो बाइक पर सवार तीन लोग भी जख्मी हुए हैं। जिन्हें वनकर्मियों ने ग्रामीणों की मदद से इलाज के लिए अस्पताल में दाखिल कराया है। टाइगर के सीरियल अटैक के बाद ग्रामीणों का वन विभाग के खिलाफ गुस्सा फूट पड़ा। मौके पर सैंकड़ों लोग इकट्ठा होकर बाघ को मारने की मांग करने लगे। मौके पर वन विभाग द्वारा गश्त बढ़ा दी गई है।

घटना तराई पश्चिमी वन प्रभाग की आमपोखरा रेंज के हाथीडगर क्षेत्र की है। जहां हाथीडगर निवासी 28 वर्षीय पूजा पत्नी नवीन चंद्र जंगल के निकट ही अपने खेत के पास बकरियां चुगा रही थी। वन विभाग के अधिकारियो के अनुसार घनी झाडि़यों में घात लगाकर बैठे बाघ ने महिला पर पीछे से हमला कर दिया। बाघ ने महिला के सिर व पीठ पर वार कर उसे बुरी तरह जख्मी कर दिया। महिला के शोर मचाए जाने पर आस-पास के लोग मौके पर पहुंचे। जिन्हें देखकर बाघ महिला को छोड़कर मौके से चला गया। लेकिन बाघ द्वारा महिला के सिर पर गंभीर रूप से हमला किए जाने के कारण महिला की घटना स्थल पर ही मौत हो गई।

वन विभाग के एसडीओ प्रदीप कुमार धौलाखंडी ने बताया कि महिला पर हमले के बाद बाघ ने मालधन से बाइक से नई बस्ती पूछडी जा रहे कमलेश पाठक व मयंक पांडे निवासी नई बस्ती पूछडी पर भी हमला बोला किया। जिससे दोनों बाइक पर सवार भी घायल हो गए। लोगों के शोर शराबा किए जाने के बाद भी बाघ मौके पर डटा रहा। इसी बीच हाथीडगर से पीरूमदारा जा रहे एक और बाइक सवार पूर्व सैनिक हरीश चंद्र निवासी हाथीडगर पर भी हमला कर उन्हें जख्मी कर दिया।

आमपोखरा रेंजर पूरन सिंह खनायत ने बताया कि सभी जख्मी लोगों को अस्पताल में भर्ती कर दिया गया है। जबकि हमलावर बाघ को हवाई फायरिंग और शोर शराबा करके जंगल की ओर भगा दिया गया है। घटना स्थल पर अलर्ट जारी करते हुए मौके पर वनकर्मियों की टीम तैनात कर दी गई है। बाघ के लगातार हमलों को देखते हुए ग्रामीणों से मार्ग पर छोटे वाहनों की आवाजाही नहीं करने को कहा गया है। घटना स्थल पर वनकर्मियों की सुरक्षा गश्त भी बढ़ा दी गई है। फिलहाल महिला के शव का पंचनामा कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है। पोस्टमार्टम की कार्यवाही कल शुक्रवार की सुबह होगी। खबर भेजे जाने तक वन विभाग के अधिकारी ग्रामीणों को समझा बुझाकर शांत करने में जुटे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385