• Sun. Apr 21st, 2024

लंग्स कैंसर के मरीजो का ईलाज अब हल्द्वानी के नीलकंठ हॉस्पिटल में करेंगे दिल्ली मैक्स चिकित्सक 


हल्द्वानी। मैक्स हास्पिटल पटपड़गंज नई दिल्ली नीलकंठ हॉस्पिटल में हर महीने के चौथे गुरुवार को थोरैसिस सर्जरी ओपीडी सेवा शुरू कर रहा है। ओपीडी में टर्शियरी केयर संबंधी परामर्श मैक्स हॉस्पिटल के डॉ. प्रमोज जिंदल देंगे। गुरुवार को हल्द्वानी में प्रेस कान्फ्रेंस में उन्होंने कहा कि थोरैसिक सर्जरी में फेफड़े, छाती की दीवार, मीडियास्टिनम और अन्नप्रणाली की सर्जरी शामिल है। उन्होंने कहा कि ग्लोबाकैन 2020 की रिपोर्ट के अनुसार भारत में विभिन्न प्रकार के कैंसर में फेफड़े का कैंसर कुल मिलाकर चौथे स्थान पर है। उन्होंने कहा कि एक आम धारणा है कि चौथी स्टेज में फेफड़े का कैंसर पता चलने के बाद मरीज कुछ महीने ही जी पाता है, लेकिन इलाज की तकनीकियों में हुई तरक्की से यह धारणा बदलने लगी है। उनका कहना था कि आधुनिक जांच के तौर तरीकों से शुरुवाती चरण में ही लंग्स कैंसर के लक्षणों का पता चल जाता है। कहा कि फेफड़े हमारे सबसे संवेदनशील अंग है ओर यह बहुत ही जल्दी संक्रमित भी हो जाते है। इस लिए हमे सांस संबंधी दिक्कते होने पर नियमित रूप से फेफड़ो की जांच करानी चाहिए। इस दौरान नीलकंठ हॉस्पिटल के चेस्ट रोग विशेषज्ञ डॉ गौरव सिंघल ने कहा कि फेफड़ो की बढ़ती गंभीर बीमारी को देखते हुए दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल की टीम के साथ करार किया गया है, अब।हल्द्वानी सांस संबंधी गंभीर बीमारियों से जूझ रहे मरीजो को इसका सीधा लाभ मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385