• Tue. May 21st, 2024

गंगा गांव के लोग बोले – नशा नहीं रोजगार दो


देवप्रयाग। तीर्थनगरी में तमाम विरोधों के बाबजूद वार्ड चार स्थित सौड़ में शराब का दूसरा ठेका खोले जाने से ग्रामीणों में आक्रोश है l प्राथमिक विद्यालय व प्राचीन सूर्य मन्दिर के निकट ठेका खोले जाने पर आक्रोशित ग्रामीणों ने मंगलवार को सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।
उन्होंने नशा नही रोजगार युवा पीढ़ी को बर्बाद करना बंद करो, नशे के खिलाफ आंदोलन तेज करो के नारे लगाते व तख़्तिया लहराते पुलिस की मौजूदगी में ठेके का घेराव किया। महिलाओ ने कहा कि शराब का ठेका खुलते ही शराबियों ने गाँव में माँ बहनो का रहना मुश्किल कर दिया है।
शराब विरोधी समिति ने शासन एवं प्रशासन से मांग कि कि पौराणिक तीर्थ स्थल देवप्रयाग जहाँ अलकनंदा भागीरथी नदी का संगम है व मां गंगा यहीं बनती है। यहां हमेशा देश-विदेश से यात्रीगण आते हैं । शासन प्रशासन द्वारा सभी कोधार्मिक आस्था की अनदेखी कर जबरन शराब का ठेका खोला गया है। इससे लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हुई है। नगर पालिका अध्यक्ष कृष्ण कांत कोटियाल कहा कि शराब का ठेका खोला है जहां उस स्थान से महज सौ मीटर की दूरी पर प्राइमरी स्कूल और ग्रामीणों का प्राचीन सूर्य मंदिर स्थापित है।पूर्व प्रधान उत्तम सिंह ने कहा कि धर्मिक स्थलों पर शराब का ठेका खोला जाना मानकों के विपरीत है। नगरवासियों ने तीन दिन में शराब का ठेका सौड से नहीं हटाने पर जन आंदोलन शुरू करने की चेतावनी दी।
प्रदर्शन में महाकाल सेना सचिव अरविंद चंद्र जिला अध्यक्ष युवा प्रकोष्ठ उक्रांद ,पौड़ी अर्जुन नेगी,समाज सेवी विमल मिश्रा पूर्व प्रधान उत्तम रावत, पूर्व प्रधान सबल सिंह रावत, पंचायत सदस्य जयवीर बेलवाल,रघुवीर सिंह नेगी मंजू देवी लीला देवी, ,रजनी देवी,आशा देवी आदि शमिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385