• Thu. Apr 25th, 2024

मॉरीशस में विजिटिंग प्रोफेसर बने डॉ उनियाल


देवप्रयाग।केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय के श्री रघुनाथ कीर्ति परिसर देवप्रयाग के वेद विभाग के सहायक प्रोफेसर डॉ शैलेन्द्र प्रसाद उनियाल को भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर), भारत सरकार द्वारा मॉरीशस में सनातन धर्म मंदिर महासंघ के अंतर्गत मॉरीशस में विजिटिंग प्रोफेसर नियुक्त किया है।
डॉ शैलेन्द्र प्रसाद उनियाल यहाँ तीन माह रहते मॉरीशस के पुरोहितों को संस्कृत, वेद, ज्योतिष ,वास्तु आदि विषयों का प्रशिक्षण देंगे। साथ ही फेडरेशन द्वारा संचालित मंदिरों का दौरा करेंगे व त्योहारों पर किए जाने वाले अनुष्ठानों हेतु अर्चकों को मार्गदर्शन देंगे। इससे भारत-मॉरीशस द्विपक्षीय संबंधों में मजबूती आएगी। मॉरीशस में भारतीय उच्चायोग एवं एमएसडीटीएफ केअधिकारियों ने डॉ शैलेंद्र प्रसाद उनियाल का गर्मजोशी से स्वागत किया तथा मॉरीशस में सभी सुरक्षा का आश्वासन दिया। एमएसडीटीएफ अध्यक्ष भोजराज घूरबिन एवं उपाध्यक्ष नुविन मातादीन ने इस नियुक्ति पर प्रसन्नता व्यक्त की है। कहा कि इससे निश्चित रूप से मॉरीशस में हिंदू प्रवासियों में एक नई ऊर्जा आएगी।
डा शैलेंद्र प्रसाद उनियाल वर्तमान में श्री रघुनाथ कीर्ति परिसर में वेद पुरोहित एवं कर्मकांड विभाग के संयोजक के रूप में कार्यरत हैं। उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान लखनऊ के वेद पंडित पुरस्कार से भी पुरस्कृत हैं।
कुलपति प्रो श्रीनिवास वरखेड़ी ने विश्वविद्यालय के लिए इसको प्रसन्नता औऱ गर्व का विषय बताया है। परिसर निदेशक प्रो बीवीबी सुब्रमण्यम ने परिसर व उत्तराखंड के लिए गर्व का विषय बताया। कहा कि संस्कृत क्षेत्र के विषय विशेषज्ञ को आई सी सी आर ने विजिटिंग प्रोफेसर के लिए नामांकित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385