• Mon. May 20th, 2024

आवासीय नक्शों को पास करने संबंधी मुख्यमंत्री के निर्देशों का हो शत-प्रतिशत अनुपालन


देहरादून। मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा विकास प्राधिकरणों को 15 दिन में आवासीय नक्शे पास करने के निर्देशों के क्रम में आज मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री वंशीधर तिवारी ने अभियंताओं की बैठक लेकर मुख्यमंत्री के निर्देशों का शत-प्रतिशत अनुपालन करने के निर्देश दिए।
एमडीडीए सभागार में आयोजित बैठक में श्री तिवारी ने कहा कि आवासीय नक्शों को हर हाल में 15 दिन में पास करना सुनिश्चित करें। इस दौरान अभियंताओं द्वारा बताया गया कि अभी भी ज्यादातर आवासीय नक्शे निर्धारित अंतराल में पास कर दिए जा रहे हैं लेकिन कई बार तकनीकी समस्याएं होने के कारण नक्शा पास करने में देर होती है। उपाध्यक्ष ने इस मामले में आईटीडीए को पत्र लिखकर इस समस्या को जल्द से जल्द दूर करने के निर्देश दिए। उपाध्यक्ष ने कहा कि सॉफ्टवेयर में एकल आवासीय नक्शे का अलग से फिल्टर लगाया जाए ताकि आसानी से आवासीय नक्शे ट्रेस हो सकें। साथ ही उन्होंने निर्देश दिए कि अगर किसी नक्शे में कोई आपत्ति लगाई जा रही है या नक्शा निरस्त किया जा रहा है तो कारणों का स्पष्ट उल्लेख किया जाए ताकि आवेदक को कम से कम दिक्कत हो। बैठक में प्राधिकरण सचिव श्री मोहन सिंह बर्निया, अधिशाषी अभियंता अतुल गुप्ता, सुनील गुप्ता, सुधीर गुप्ता समेत अन्य अभियंता उपस्थित रहे।

आबादी क्षेत्र में न पास हो वेडिंग पॉइंट व होटल का नक्शा
एमडीडीए उपाध्यक्ष श्री वंशीधर तिवारी ने दो टूक शब्दों में अभियंताओं से कहा कि किसी भी सूरत में आवासीय क्षेत्रों में वेडिंग पॉइंट व होटल इत्यादि के नक्शे पास न किए जाएं। उन्होंने कहा कि अगर इस तरह की लापरवाही की गई तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने समस्त अभियंताओं को स्पष्ट रूप से कहा कि मॉल, होटल आदि पास करते समय रोड की चौड़ाई व आबादी का विशेष रूप से ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि इन सब चीजों का हमें विकेंद्रीकरण करना है, यह सुनिश्चित किया जाए कि इस तरह की ज्यादा से ज्यादा गतिविधियां शहर से बाहर हों। साथ ही उन्होंने देहरादून व मसूरी में बनने वाली पार्किंग को लेकर भी प्रगति जानी।

वॉटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए
उपाध्यक्ष ने कहा कि नए व्यावसायिक नक्शों में वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होंने पिछले दिनों इसे लेकर की गई बैठक की प्रगति भी जानी जिस पर बताया गया कि जिनके द्वारा वाटर हार्वेस्टिंग नियम का पालन नहीं किया जा रहा है ऐसे प्रतिष्ठान संचालकों को नोटिस भेजे गए हैं। आवासीय एवं कमर्शियल नक्शों में यूरिनल पैनल का भी अलग से प्रावधान को उन्होंने अनिवार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने अभियंताओं से अपेक्षा की कि वे शहर में चल रही प्लांटेशन ड्राइव की भी मोनिटरिंग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385