• Sat. May 18th, 2024

श्रीनगर, कोटद्वार व यमकेश्वर में डेंगू कंट्रोल रूम स्थापित होंगे


पौड़ी। जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान ने डेंगू रोग के नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने लापरवाही बरतने पर जिला मलेरिया अधिकारी और सहायक नगर आयुक्त का वेतन रोकने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा उन्होंने नगर आयुक्त श्रीनगर को सख्त चेतावनी देते प्रतिदिन घर-घर जाकर फॉगिंग कर उसकी फोटोग्राफ्स उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।


सोमवार को डीएम ने एनआईसी कक्ष में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग व नगर निकायो के अधिकारियों को डेंगू वाले क्षेत्रों में निरंतर रूप से फॉगिंग करने के निर्देश दिये। उन्होंने मलेरिया अधिकारी द्वारा डोर-टू-डोर डेंगू की सर्वे नहीं करने व सहायक नगर आयुक्त श्रीनगर द्वारा फॉगिंग नहीं करने पर वेतन रोकने के निर्देश दिये। उन्होंने मलेरिया अधिकारी को गत वर्ष जिन वार्ड, गल्ली-मोहल्ला में जिन व्यक्तियों को डेंगू की पुष्टि हुई है व इस वर्ष भी उन्हीं वार्ड, गल्ली-मोहल्ला में डेंगू के मरीज मिले हैं तो उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए कहा । जिससे वहां डेंगू से निजात दिलाने हेतु आवश्यक कार्यवाही समय पर की जा सकेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि श्रीनगर, कोटद्वार व यमकेश्वर में डेंगू कंट्रोल रूम स्थापित कर प्रतिदिन की रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जनपद में डेंगू के मामले कुल 99 हैं। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व नगर निकाय के अधिकारियों को डेंगू के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए संवेदनशील क्षेत्रों में निरंतर रूप से प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये हैं। जिससे बड़ते डेंगू मामलों की संख्या कम की जा सकेगी।
बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 प्रवीण कुमार, सीएमएस बेस चिकित्सालय श्रीकोट डॉ0 रविन्द्र बिष्ट, एसीएमओ डॉ0 रमेश कुंवर, मलेरिया अधिकारी डॉ0 इंद्रपाल सिंह, सीएमएस डॉ0 नीरज कुमार रॉय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385