• Wed. Feb 28th, 2024

मल्ली गांव में आठ अति गरीब परिवारों को मिले रोजगार के लिए चेक


पौड़ी। उत्तराखंड सरकार की हर हाथ को रोजगार देने की मुहिम आगे बढ़ रही है। इसके तहत ग्रामीणों को  गांव में ही स्वरोजगार के लिए आर्थिक सहायता करने के साथ ही तकनीकी मदद भी जा रही है। सरकार के इस अभियान के तहत विकास खंड पौड़ी के मल्ली गांव में ग्रामीण उद्यम वेगवद्धि परियोजना ( रीप ) की ओर से 8 अति गरीब परिवारों (अल्ट्रा पुअर ) को रोजगार शुरू करने के लिए  35-35 हजार रुपये के  चेक वितरित किए गए।
रीप ने पौड़ी ब्लॉक के अलग-अलग गांवों से अभी तक 55 अल्ट्रा पुअर परिवार चयनित किए गए हैं।  इन अति गरीब परिवारों को बकरी पालन, गाय पालन, दुकान व सिलाई सेंटर आदि उद्योग आदि के लिए चयनित किया गया है।
इन परिवारों में 10 परिवार मल्ली गांव से हैं।गांव में आयोजित कार्यक्रम में इनमें से 8 परिवारों को खंड विकास अधिकारी नवीन उपाध्याय व उमंग स्वायत सहकारिता की अध्यक्ष रेखा देवी के हाथों रोजगार शुरू करवाने के लिए 35-35 हजार रुपये के चेक दिए गए।  खंड विकास अधिकारी उपाध्याय ने कहा कि रीप द्वारा ग्रामीणों को रोजगार से जोड़ने की यह अच्छी सोच है। रोजगार की तलाश में ग्रामीण लगातार पलायन कर रहे हैं। ऐसे में अपने ही गांव में रोजगार मिलने पर पलायन में रोक देखने को मिलेगी।
रीप के ब्लाॅक एकाउंटेट मोहन कुमार ने बताया कि 5 लाभार्थी  बकरी पालन और 3 लाभार्थी गाय पालन काम कर रहे हैं। मनरेगा द्वारा इन लाभार्थियों के लिए बकरी बाड़ा व गोशाला बनाई जाएंगी।
इस मौके पर कविता, गीता रावत, आशा नेगी, अभिषेक, अक्षय तोमर सहित रीप व उमंग क्लस्टर स्टॉफ मौजूद रहे।
इधर, रीप के जिला परियोजना प्रबंधक कुलदीप बिष्ट ने बताया कि रीप के माध्यम से सभी को रोजगार से जोड़ा जाएगा। प्रत्येक महीने ब्लॉक टीम इनकी मॉनिटरिंग करके यह देखेगी कि इनके व्यवसाय मे कितनी बढ़ोतरी हो रही है। उन्होंने बताया कि मनरेगा व पशुपालन विभाग भी लाभार्थियों का सहयोग करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385