• Wed. Feb 28th, 2024

कॉर्बेट पार्क में टाइगर ने फिर मार डाला मजदूर को, गोलियों की बौछार के बाद लाश छोड़कर भागा बाघ


रामनगर/उत्तराखंड: बाघ ने कॉर्बेट नेशनल पार्क के ढिकाला जोन में कैंपस के बाहर झाड़ियां काट रहे एक श्रमिक पर हमला कर उसे जान से मार डाला। मौके पर मौजूद बंदूकधारी वनकर्मियोंं ने खूंखार बाघ पर करीब 12 राउंड फायरिंग की तो हमलावर बाघ शव छोड़कर भाग गया। ग्यारह दिन के अंदर दूसरी घटना से पार्क प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है।

कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के ढिकाला जोन में झाड़ी कटान के लिए विभाग ने श्रमिकों को लगा रखा है। इनकी सुरक्षा के लिए बंदूकधारी वनकर्मियों को भी तैनाती की गई है। बृहस्पतिवार सुबह श्रमिक ढिकाला कैंपस के बाहर झाड़ियाें का काट रहे थे। इसी दौरान झाड़ियों को काट कर रहे नेपाली मूल के रामू (55 वर्ष) नाम के श्रमिक पर सुबह के समय बाघ ने हमला कर दिया। बाघ श्रमिक को उठाकर जंगल के ले गया। यह देख वहां झाड़ी कटान कर रहे अन्य लोगों व वन कर्मियों ने शोर शराबा कर बाघ को भगाने का प्रयास किया। लेकिन बाघ के टस से मस न होने के कारण वनकर्मियों ने बाघ पर फायर खोल दिए। करीब 12 राउंड फायरिंग के बाद बाघ श्रमिक के शव को छोड़कर जंगल में चला गया। बाघ के हमले में मारे गए श्रमिक की मौत से हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पार्क वार्डन अमित ग्वासीकोटी सहित अन्य वना​धिकारी मौके पर पहुंचे। जिसके बाद श्रमिक के शव को पोस्टमार्टम के लिए रामनगर लाया गया।

आमपोखरा रेंज के हाथीडगर में युवक पर टाइगर का हमला

बता दे कि ग्यारह दिन के भीतर ही कॉर्बेट नेशनल पार्क के ढिकाला में सेम पेटर्न पर बाघ के हमले में दूसरे श्रमिक की मौत हुई है। इससे पहले 12 नवंबर को नेपाली मूल के 22 वर्षीय ​शिवा गुरुम पर भी बाघ ने हमला कर मार दिया था। पार्क वार्डन अमित ग्वासीकोटी ने बताया कि ढिकाला कैंपस के पास झाड़ी कटान का काम किया जा रहा था, इसी दौरान बाघ ने श्रमिक पर हमला किया और उसे मार दिया।

वन विभाग की टीम पर हमला करते मारा गया ढिकवाल गांव का आदमखोर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
नॉर्दर्न रिपोर्टर के लिए आवश्यकता है पूरे भारत के सभी जिलो से अनुभवी ब्यूरो चीफ, पत्रकार, कैमरामैन, विज्ञापन प्रतिनिधि की। आप संपर्क करे मो० न०:-7017605343,9837885385